सायला मे ग्रामीणो ने परेशान होकर हाईवे ठेकेदार के विरूद्ध उठाया ये कदम …..

श्रवणसिह राजपुरोहित

सायला
बाडमेर से जालोर जिले को जोडने वाले स्टेट हाईवे 16 के तहत ग्राम मुख्यालय पर हाईवे ओथेरिटी के ठेकेदार द्वारा किेये जा रहे मनमाने ढंग से निर्माण को रूकवाने एंव अस्तव्यस्त की गई सार्वजनिक एवं जन उपयोगि सुविधा तंत्र को सुचारू करने की मांग को लेकर जनप्रतिनिधियो सहित ग्रामीणो ने पीडब्ल्युडी मंत्री युनुसखान के नाम सायला तहसीलदार ताराचंद वैकेट को ज्ञापन सौपा।
ज्ञापन मे बताया कि ठेकेदार द्वारा मनमर्जी का कार्य किया जा रहा है जिससे आमजन को परेशानी का सामना करना पड रहा है नालिया की उॅचाई ज्यादा होने के कारण कई गलियो से होकर आना— जाना बंद हो गया है। वही खुदाई करते समय पेयजल पाईपलाईन, दुर संचार व्यवस्था हेतु डाली गई ओएफसी केबलस एवं ग्राम पंचायत द्वारा किए गए वृक्षारोपण कार्य को भी बिना ग्राम पंचायत को सुचना दिए ट्रीगार्ड सहित पौधों को उखाड कर फेक दिए है।

वही बताया कि बिना सुचना एवं बिना वैकल्पिक व्यवस्था किए बिना प्रशासन एवं जनप्रतिनिधी को बताए ही मनमर्जी से कार्य करने से शहर में पाईपलाईने तोड दी गई है जिससे पेयजल की सप्लाई समय पर नही हो पा रही है। साथ ही दुर संचार की केबल्स टुट जाने के कारण सरकारी लेन देन तथा नेटवर्क बंद होने के कारण आमजन को भारी परेशानी का सामना करना पड रहा है।

वही ग्रामीणों ने ज्ञापन में मांग की स्टेट हाईवें 16 के प्रभारी को तत्काल प्रभाव से कार्य को बंद करवाकर जनउपयोगी सुविधाओं कों सुचारू करने के उपरान्त में स्थानीय प्रशासन एवं जनप्रतिनिधियों से विचार विमर्श कर पुन: कार्य शुरू करने की मांग की। इस दौरान प्रधान जरबसिह तुरा,स्थानीय सरपंच सुरेश राजपुरोहित , नैनमल लखारा, राजेन्द्र माहेश्वरी, पूर्व उपप्रधान नरपतसिंह, भारतीय किसान संघ के नेता वागाराम, पदमाराम चौधरी, रमेंश कुमार, कुयाराम, महेन्द्रसिंह, गणपतलाल, भोलाराम, सतार खां, जबरसिंह, पारसमल, सकाराम, जफर खां सहित कई जने मौजुद थे।