जसवंतपुरा व सायला में जमकर बरसे बादल, जाने कहा कितनी हुई जिले में अब तक बारिश

राजस्थान भारती

जालोर.जिले में पिछले दिनो से बारिश का दौर जारी है। जिले में कही ज्यादा तो कही कम बारिश हुई है। वैसे देश के दक्षिण भारत के राज्यों में मानसून ने जून महिने में प्रवेश किया। हाालांकि राजस्थान के कुछ जिलो को छोड दे तो बाकी जगह मानसून ने जुलाई में ही दस्तक दी है। वहीं जालोर की बात करे तो मानसून ने जूलाई महिने में शुरूआत की। हालांकि अभी भी पुरी तरह से मानसून सर्किय नहीं है और अब तक मानसून ने कोई खास रंग नहीं दिखाया है।

वैसे बात करें पिछले साल की तो 23 जूलाई के आसपास तो जवाई नदी उफान पर थी और बिना जवाई बांध की फाटक खोले की जवाई नदी ने जालोर में प्रवेश कर दिया था। यहा तक कि पुरे वेग के साथ चली थी। जिसे देखने के लिए लोगो का हुजुम उमड पडा था। एक तरह से कह सकते है कि नदी किनारे पर्यटक स्थल बन गया था। वहीं बात करें इस वर्ष की तो इस बार अभी तक बारिश ने वो अंदाज नहीं दिखाया है जो पिछले वर्ष यानी 2017 में दिखाया था। हा जरूर छुटपुट बारिश के बाद जहां किसानो ने अपने खेतो में फसल बोई हैं। वहीं कई ऐसे भी क्षेत्र है जहां अभी भी लोगो को अच्छी बारिश का इंतजार हैं। हम आपको बता दे कि जिले में अब कहा और कितनी बारिश हुई।

गुरुवार को सायला, बाकरा, जसवंतपुरा में जमकर बरसे बदरा

पिछले दो दिन से रूक रूककर हो रही बारिश के बाद गुरुवार को जसवंतपुरा क्षेत्र में जमकर बादल बरसे। वहीं जिला मुख्यायल पर बुंदा बादी के बाद निकटवर्ती बाकरागांव में भी बादलो ने मेहरबानी की और जमकर बरसे। जिससे किसानो को काफी राहत मिली है। वहीं उमस से भी निजात मिली है।

जिले में बुधवार को हुई बारिश के आंकडे

जालोर में 12 एमएम, आहोर 00, सायला 6, भीनमाल 1,बागोडा 00, जसवंतपुरा 9, रानीवाडा 0, चितलवाना 0 तथा सांचोर में 3 एमएम बारिश दर्ज की गई।

जिले में अब तक दर्ज की गई बारिश के आंकडे

वहीं जिले में 1 जून से अभी तक दर्ज की बारिश की बात करें तो इन्द्रदेव की सबसे ज्यादा मेहरबानी जसवंतपुरा पर रही जहां अब तक 191 एमएम बारिश दर्ज् की गई, वहीं दुसरे स्थान पर जालोर रहा जहां 165 एमएम, तीसरे स्थान पर आहोर जहां 133, बागोडा 83, भीनमाल में 38, सायला में 40, रानीवाडा में 40, सांचोर में 23 तथा सबसे कम चितलवाना में 8 एमएम बारिश दर्ज की गई है।