यहां छात्रों को बस्ते के साथ इस बोझ का उठाना मजबूरी बन गया है

सायला

निकटवर्ती कोमता ग्राम पंचातय मे पिछले सप्ताहभर से पीने के लिए पानी की भारी समस्या बनी हुई है। ऐसे मे गॉव मे पानी की समस्या को देखते हुए लोगो को टेंकरो से पानी डलवाने को मजबुर होना पड रहा हैl

वही स्कूल मे पढने वाले विद्यार्थीयो को अपने घर से बोतलो मे पानी लाने को मजबूर होना पड रहा है। इधर राजकिय उच्च प्राथमिक विद्वालय नई बस्ती कोमता का कहना है कि पिछले सप्तहभर से नई बस्ती स्कूल मे पानी की सप्लाई नही हुई हैl

ऐसे मे स्कूल का टांका भी खाली पडा है बच्चो को ग्रर्मी के समय मे पानी के लिए भारी परेशान होना पड रहा है। प्रधानाध्यापक का कहना है पानी की समस्या को लेकर कई बार सरपंच व जलदाय विभाग के अधिकारीयो को अवगत करावा है लेकिन इस और कोई भी ध्यान नही दे रहे है ऐसे मे छोटी कक्षाओ मे पढने आने वाले विद्यार्थीयो को स्कूल बैग के साथ पानी की बोतल भरकर लाने से छोटे बच्चो को भारी परेशानीयां झेलनी पड रही है। बैग व बोतल का भार लेकर बच्चे इस गर्मी के समय मे स्कूल नही आ पाते है।

घर बातले भर पानी साथ लाने को मजबुर है स्कूली बच्चे

कोमता ग्राम के राजकिय उच्च प्राथमिक विद्यालय नई बस्ती मे पढने वाले छात्र—छात्राओ को अपने घर से बोतले भर कर पानी लाने को मजबुर है। लेकिन इस और न तो शिक्षा विभाग कोई ध्यान दे रहा है और न ही जलदाय विभाग।

घरो से पानी लाकर पकाना पड रहा पोषाहार

कोमता के नई बस्ति विद्वयालय मे पिछले लंबे समय से पानी की समस्या बनी हुई है ऐसे मे विद्यालय मे पोषाहार बनाने के​ लिए भी बेरो से पानी लाना पड रहा है।