Rajasthan Bharti
  • ताजा खबर

    मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल गौर का निधन, वे 10 बार लगातार…  |   अवैध हथियार के साथ नाचते हुए सोशल मीडिया पर विडियो किया वायरल, गिरफ्तार  |   इस वर्ष बारिश में राजस्थान के इन बांधों में आया इतना पानी, इतने है बांध  |   निःशुल्क दवा योजना में राजस्थान को मिला देश में प्रथम स्थान  |   सांसद पटेल की कृषि राज्य मंत्री से मुलाकात, बोले भाद्राजून एवं सुगालिया जोधा गांव…  |  

    किसान संघ के प्रतिनिधि बोले, मांगे नहीं माने जाने तक धरना रहेगा जारी

    August 13, 2019

    जालोर. जिला मुख्यालय पर मंगलवार को किसानों ने विभिन्न मांगों को लेकर धरना शुरू हुआ। कलेक्ट्रेट के बाहर शुरू हुए धरने में कई किसान भाग ले रहे हैं। इधर मौके पर उपखंड अधिकारी चंपालाल जीनगर, डीएसपी जयदेव सियाग, कोतवाल बाघसिंह समेत पुलिसकर्मी मौजूद हैं।

    कलक्टर से वार्ता करते हुए किसान प्रतिनिधि

    किसानों ने धरने के दौरान मुख्य सड़क को जाम करने की कोशिश की, लेकिन प्रशासन व पुलिस के अधिकारियों ने समझाइश कर रास्ता खुलवाया। इधर किसान संघ के पदाधिकारियों का कहना है कि जब तक मांगे नहीं मानी जाती हमारा धरना जारी रहेगा।

    गौरतलब है कि भारतीय किसान संघ के बैनरतले आयोजित होने वाले इस धरने में मुख्य रूप से खरीफ फसली बीमा 2018 किसानों का दिलाने, किसानों को सिचाई के लिए पानी देने जिसमें खासकर नर्मदा से सिंचाई के क्षेत्र को बढाने व जवाई बांध पुनर्भरण की मांग। सोलर कृषि कनेक्शन दिलाने, 2017 से लम्बित आवेदन उन्हे सोलर कनेक्शन देने व सहकारी समितियों से किसानों को ऋण दिनाले की मांग प्रमुख मुद्दे शामिल है।

    इसको लेकर मंगलवार को किसान जिला मुख्यालय के बाहर इक्कइे होकर अपनी मांगो के लिए प्रर्दशन कर रहे है। हालांकि धरना शुरू होने से पहले धरना स्थल को लेकर किसान संघ के पदाधिकारियों में आपस में तालमेल की कमी रही, लेकिन कुछ देर बार ही सब कुछ ठीक हो गया और सबकी सहमति से धरना एक स्थान पर शुरू हुआ।

    वहीं जिला कलक्टर महेन्द्र सोनी से भी किसानों की वार्ता हुई है। जिसमें कलक्टर ने किसानों की वाजिब मांगो को लेकर आश्वस्त किया है कि किसानों की मांगो पर अमल किया जाएगा। हालांकि अभी तक किसान कलेक्ट्रेट के बाहर धरने पर बैठे हुए है और किसान नेता सभा को संबोधित कर रहे है।

    Leave a Reply